निरंतर की एक और पहल: दक्षिण पुरी में लर्निंग सेंटर की शुरुआत

1

निरंतर द्वारा परवाज़ अडोलसेंट सेंटर फॉर एजुकेशन (PACE) नामक प्रोजेक्ट के तहत खोले गए दो सेंटरों की कामयाबी के बाद अब संजय कैंप (दक्षिण पुरी) में एक नया लर्निंग सेंटर खोला गया है. एक्शन इंडिया की साझेदारी से यह सेंटर दिल्ली के संजय कैंप की ऐसी किशोरियों के लिए है जिनका किन्हीं कारणों से स्कूल छूट गया है.

Continue reading

Identity Politics and Dynamics of a ‘Victim’

“Even people who listen to you are a resource – only when people listen to you can you move from one place to another.” – Sankari[i]

The above quote was shared by a participant at the National Consultation on Sexuality Discourses in India, organized by Nirantar on 16, 17 June 2016 in Delhi. The consultation was a step forward from the sexuality mapping that we conducted in the year 2013-14. . Through the mapping exercise, Nirantar started to interrogate conversations around sexuality happening in different spaces. One of the primary points of discussions that emerged during the sessions was that of Identity Politics, “political arguments that focus upon the interest and perspectives of groups with which people identify”.[ii]

Continue reading

Let’s Talk About Sex: Sexuality and the Embodied Empowerment of Girls

Please join GreeneWorks, American Jewish World Service, CARE and the International Women’s Health Coalition on 7th September at the 2016 AWID Forum at the Costa do Sauipe in Salvador da Bahia, Brazil for an interactive, “get out of your seat” theater performance and learning session about the possibilities for the embodied empowerment of girls through exploring sexuality, gender, power and pleasure in their lives.

Invite image for announcement

Continue reading

क्या है अश्लील?

Image
इन दोनों तस्वीरों को देखकर आपको क्या लगता है? औरत की इन दो छवियों में आपको किस छवि से ज़्यादा परेशानी है?शायद बाएँ तरफ की तस्वीर को कई लोग अश्लील कहेंगे। अक्सर हममें से कई लोगों को हिंदी फिल्मों में हीरोइन जब कम कपड़े पहनती है तो गुस्सा आता है। हम सोचती हैं कि कितनी बेशरम हैं ये लड़कियाँ जो अपना खुला शरीर दिखाती हैं। हमें लगता है कि इन सबसे औरतों की छवि बिगड़ जाती है। जबकि समाज द्वारा बनाई गई अच्छी औरत की धारणा को यह तस्वीर चुनौती देती है, इसलिए अश्लील लगती है।

Continue reading

Image

यौनिकता और हम

दंड संहिता:

इस चित्र में आप देखेंगे की यौनिक कायदे तोड़ने वालों को किन मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. चित्र में दिए गए गोलों में हैं, यौनिक कायदे तोड़ने वाले लोग और उनसे जुड़े चौकोर आकारों में है, कायदों को तोड़ने पर उनके साथ होने वाले भेदभाव और अन्याय I

यौनिकता और हम- भाग १ का अंश
निरंतर